🔶 किसान के बेटे ने बाजी मारी, आइएएस बनने की है इच्छा ➖➖➖➖➖➖➖➖➖

🔶 किसान के बेटे ने बाजी मारी,
आइएएस बनने की है इच्छा
➖➖➖➖➖➖➖➖➖
#अयोध्या: यूपी बोर्ड की #इंटरमीडिएट की परीक्षा में किसान के बेटे ने जिले में पहला स्थान हासिल किया है। #बीकापुर तहसील के #अवध_किसान_इंटर_कॉलेज #नसरतपुर के छात्र #धर्मेंद्र यादव ने पांच सौ में से 447 अंक हासिल कर जिले में पहला स्थान पाया है। उनके पिता हरिराम यादव पेशे से किसान हैं, जबकि माता पार्वती देवी गृहणी हैं। ग्रामीण परिवेश में पले-पढ़े धर्मेंद्र का सपना आइएएस बनने का है। तीन भाइयों में दूसरे नंबर पर धर्मेंद्र अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता व शिक्षकों के मार्गदर्शन को देते हैं। हाईस्कूल में भी उन्होंने 89.5 फीसद अंक हासिल किये थे। सुख-सुविधाएं और संसाधन उनकी सफलता से आड़े नहीं आए और धर्मेंद्र ने अपनी मेहनत से यह साबित कर दिया कि ²ढ़ इच्छाशक्ति हो तो हालात पर जीत दर्ज की जा सकती है। उन्होंने रोजाना औसतन छह से सात घंटे पढ़ाई की। गणित उनका सबसे पसंदीदा विषय है। #तारुन_ब्लॉक के #पीठापुर निवासी धर्मेंद्र का सपना आइएएस बनना का है। वे कहते हैं कि कोरोना संकट काल में मौजूदा दौर ऑनलाइन पढ़ाई का हो चुका है, लेकिन ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन पढ़ाई आसान नहीं। कभी बिजली तो कभी नेटवर्क की दिक्कत रहती है। ऐसे में पढ़ाई को सुचारु बनाए रखने के लिए विद्यार्थियों को स्वयं पढ़ाई में लय बनाए रखनी होगी।

Sumit Kumar

Vill&post- Bainti Kala Block- Bikapur District- Ayodhya