बढैपुरा ता. कुसमा के ग्राम प्रधान व रोजगार सेवक के कार्यों की जांच की मांग

ग्रामीणों ने बढैपुरा ता. कुसमा के ग्राम प्रधान व रोजगार सेवक के कार्यों की जांच की मांग की

जिलाधिकारी को प्रार्थना पत्र व लगभग 60 एफिडेविट देकर जांच की मांग की

जांच करने आई टीम पर लगाया प्रधान व रोजगार सेवक से मिलीभगत का आरोप

दियोरिया कला- ब्लाक बरखेड़ा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले गांव बढैपुरा ताल्लुक कुसुमा के ग्राम प्रधान व रोजगार सेवक पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए जिलाधिकारी से की ग्राम पंचायत में हो रहे घोटाले की जांच कराने की मांग जांच करने आई टीम पर भी लगाए गंभीर आरोप

क्षेत्र के गांव बढैपुरा ताल्लुक कुसुमा निवासी वीरेंद्र कुमार पुत्र छदम्मीलाल ने जिलाधिकारी शहित कई अधिकारियों को प्रार्थना पत्र भेजकर जांच की मांग की दिए गए प्रार्थना पत्र में कहा गया कि ग्राम प्रधान द्वारा गांव में आरसीसी सहित कई ऐसी नाली खड़ंजा है जिसका पैसा बगैर कार्य करवाए ही निकाल लिया गया वही रोजगार सेवक पर भी गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि रोजगार सेवक गांव के उन लोगों के खाते में पैसा डलवाता है जो काम करने जाते ही नहीं गांव के ही ऐसे करीब 60 लोग हैं जिनके खाते में बगैर कार्य के ही 30 से 35 दिहाड़ी लग जाती हैं जबकि मनरेगा द्वारा काम केवल 3 दिन ही हुआ था तो 30 दिहाड़ी कहां से आ गई लेकिन इन लोगों ने कोई काम भी नहीं किया था
शिकायत करने वालों में नीरेंद्र कुमार, अरुणकुमार ,रामकिशोर, हरिराम ,विमलेश कुमार, किशन कुमार, शांति स्वरूप ,लालाराम, भगवानदास, नन्हे लाल सहित करीब 60 लोगों ने जिलाधिकारी को एफिडिफिट संलग्न कर प्रार्थना पत्र दिया था

जिलाधिकारी द्वारा गठित टीम जांच करने आई उस पर भी प्रधान और रोजगार सेवक से मिलीभगत का आरोप लगाया कहा कि हमें सूचना दिए बगैर ही इन लोगों से मिलकर चले जाते हैं और जिन जिन जगहों की समस्या है वहां पर नहीं जाते हैं विद्यालय में बैठे रहते हैं

Anil Kumar kashyap

Pilibhit bisalpur madhwapur