राजस्थान सेक्सी वीडियो चुदाई

शिवराज्याभिषेक caption

शिवराज्याभिषेक caption, नीद से फ्री होने के बाद शाज़िया कुछ देर बिस्तर पर पड़ी ये ही बात सोचती रही. जब शाज़िया के जहाँ में कोई आइडिया ना आया. तो उस ने उठ कर सब से पहले नाश्ता करने का सोच लिया. मगर फिर ज्यों ही रज़िया बीबी के ज़हन ने काम करना शुरू किया. तो रज़िया बीबी को अहसास हुआ कि लोड शेडिंग की वजह से घर की बिजली गई हुई है.

जिसे उस की टाँगों के दरमियाँ लेटा हुआ उस का भाई ज़ाहिद लेमन का पानी समझ कर पी पी कर अपने जवान जिस्म की गर्मी को कम करने की कोशिस में मसरूफ़ हो गया. और अपनी बहन की फूली हुई चूत के होंठो पर अपनी गरम ज़ुबान रखते हुए बोला चलो अगर में अपनी बहन की चूत में अपना लंड नही डाल सकता तो कोई बात नही,में एक महीना यूँ ही अपनी बहन की चूत के पानी को चाट चाट कर ही अपने मुँह और लंड की प्यास बुझाने की कोशिश करूँगा

तो ज़ाहिद ने रज़िया बीबी के जिस्म को दुबारा चारपाई पर लिटाया. और फिर बे सूध हो कर अपनी अम्मी के गीले बदन पर ढेर हो गया. शिवराज्याभिषेक caption इस एक महीन के दौरान ही शाज़िया अपने भाई के लंड से जितना चुदवा चुकी थी. इतना तो शाज़िया ने शायद अपनी असली शादी के पहले 6 महीने में भी नही चुदवाया था.

ஹிந்தி செக்ஸ் வீடியோக்கள்

  1. इस स्टाइल में रज़िया बीबी की गान्ड बदस्तूर ज़ाहिद के मुँह की तरफ थी. जब कि ज़ाहिद के जिस्म के उपर बैठी रज़िया बीबी का मुँह अब भी बिस्तर पर लेटे हुए अपने बेटे के पैरों की तरफ था.
  2. उस ने एक दम से ज़ाहिद के कंधे पर रखा हुआ हाथ हटाया. और अपने हाथ को ज़ाहिद की कमर के गिर्द ला कर अपने बेटे की कमर के गिर्द लपेट दिया. इंडियन ब्लू फिल्म दिखाईये
  3. ओह अमिीईईईईईई उउम्म्म्मममममममम अहह क्या ज़ालिम मम्मे है आप के, और क्या ग़ज़ब की गान्ड है आप की अम्म्मिईीईईईई,उफफफफफफफफफ्फ़ कब मेरा लंड को आप की चूत नसीब हो गी अमिीईईईईईईईईईईईईई ज़ाहिद ज़ोर और जोश से आज पहली बार अपनी ही सग़ी अम्मी के नाम की मूठ लगाने में मसरूफ़ था. इसीलिए जब रज़िया बीबी अपनी टाँग पे टाँग रख कर मोटर साइकल पर बैठी तो रज़िया बीबी की पैंटी उस की चूत और गान्ड पर मज़ीद कस्ति चली गई.
  4. शिवराज्याभिषेक caption...रास्ते में उस ने अपनी अम्मी को फोन पर बता दिया कि वो अपनी सहेली के घर जा रही है और इसीलिए कुछ देर ठहर कर घर वापिस आए गी. फर्श पर इस तरह बैठने से अब रज़िया बीबी का मुँह बिस्तर पर बैठे हुए अपने बेटे ज़ाहिद की टाँगों के दरमियाँ में उस की निक्कर के अंदर खड़े हुए लंड के बिल्कुल सामने आ गया था.
  5. और वो फोन की दूसरी तरफ से बोला अम्मी शाज़िया कहाँ है, में दो तीन दफ़ा उसे फोन कर चुका हूँ,मगर वो फोन का जवाब नही दे रही और टीवी लाउन्ज के बिछे सोफे पर बिल्कुल नंगी हालत में नीम दराज़ स्टाइल में लेटी अपनी अम्मी की मोटी फुद्दि में अपना मुँह डाल कर अपनी सोतन वाल्दा का मोटा चुदा हुआ फुद्दा खाने लगी.

काले लंड की चुदाई वीडियो

लगता है ज़ाहिद रात को अपने दरवाज़े की कुण्डी लगा कर नही सोया अपने बेटे के दरवाजे को यूँ खुला पा कर रज़िया बीबी ने सोचा.

रज़िया बीबी ने शाज़िया को ला कर जमशेद के पहलू में बिठा दिया. तो मोलवी साब ने एक एक कर के जमशेद का निकाह शाज़िया और ज़ाहिद का निकाह नीलोफर से पढ़वा दिया. मगर इस के बावजूद ज़ाहिद का लंड अपनी अम्मी की चूत में ऐसे फिट हो रहा था. ऐसे किसी बॉटल में कॉर्क फिट हो जाता है.

शिवराज्याभिषेक caption,ज़ाहिद ने अपनी बहन को अपने चुंगल से आज़ाद करने से पहले अपनी बहन के गुदाज गालों की एक बार फिर एक भर पूर चुम्मि ली. और शाज़िया को अपनी क़ैद से रिहाई दे कर खूद बाहर का दरवाज़ा खोलने चला गया.

दीदी ने बताया कि उस दिन और उस 'मोमबत्ती' को वो कभी नही भूल पाई. मोमबत्ती को तो उसने 'निशानी' के तौर पर अपने पास ही रख लिया.. वो बताती हैं कि उसके बाद शादी तक 'वो' मोमबत्ती ही भरी जवानी में उनका सहारा बनी. जैसे अंधे को लकड़ी का सहारा होता है, वैसे ही दीदी को भी मोमबत्ती का सहारा था शायद

दिल तो मेरा नही चाह रहा, मगर एसएचओ का फोन आ गया है और उस ने फॉरन थाने आने का बोला है,वैसे भी वो कहते है ना कि ,नोकरी की ते नखरा की, इसीलिए ना चाहते हुए भी अब जाना तो पड़े गा ना ज़ाहिद ने अपनी बहन शाज़िया की बात का जवाब दिया.भारतीय बीएफ भारतीय बीएफ

अपने भाई ज़ाहिद के लंड की गर्मी और सख्ती को अपने होंठो पर ही महसूस कर के शाज़िया सोचने लगी.कि उस के भाई का ये मोटा और बड़ा लंड तो आज उस की फुद्दि की धज्जियाँ बखेर कर रख देगा . ज्यों ही रज़िया बीबी ने अपनी पैंटी को उतार कर उसे बेड पर पड़ी अपनी ब्रेज़ियर के पास फैंकने की कोशिश की.

नही अम्मी में चाइ के साथ रस खा चुकी हूँ,आप नाश्ता करें में थोड़ी देर में आती हूँ शाज़िया अपने भाई के सामने मज़ीद रुकना नही चाहती थी. इसीलिए वो बहाना बना कर अपने कमरे में चली गई.

खास तौर पर एसजेड (शाज़िया ज़ाहिद) के हरफो वाला लॉकेट पहन कर शाज़िया की खुशी की इंतहा ही ना रही.क्यों कि अपने नाम का लॉकेट तो शाज़िया को उस के असली सबका शोहर ने भी नही दिया था.,शिवराज्याभिषेक caption तो ज़ाहिद भाई की इस वक्त घर आमद और सब से बढ़ कर अपने भाई को अपनी अम्मी के नंगे वजूद को देखने के दौरान अपने लंड की मूठ लगाते हुए पा कर शाज़िया एक दम से चौंक गई.

News